PAK सेना और ISI की खतरनाक साज़िश, जैश, लश्कर और हिज्बुल को सौंपी भारत को दहलाने की जिम्मेदारी

0
291

नई दिल्ली,  जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाहट में है। इसके बाद से ही पाकिस्तान की ओर से भारत में घुसपैठ की कोशिशे बढ़ी हैं जिसका भारत ने मुंहतोड़ जवाब दिया है और कई आतंकी मार गिराए हैं। लेकिन पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान को लेकर एक खुफिया रिपोर्ट आ रही है कि पाकिस्तान की सेना और आईएसआई(ISI) की मदद से पाक के तीन बड़े आतंकी संगठनों- जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा और हिज्बुल मुजाहिद्दीन को जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले को अंजाम देने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

Box Office in 4th Quarter of 2019: ‘वॉर’ छिड़ चुकी है, आख़िरी तिमाही में टूटेंगे बॉक्स ऑफ़िस रिकॉर्ड?

इसके अलावा भारत के कुछ हिस्सों में भी आतंकी घटनाओं का साजिश पाकिस्तान की ओर की जा रही है। इसमें कुछ राजनीतिक और पुलिस हत्याएं किए जाने की संभावना जताई गई है।

एएनआइ को विशेष रूप से एक्सेस किए गए दस्तावेजों से इसकी जानकारी मिली है। इन खुफिया दस्तावेजों में कहा गया है कि पिछले हफ्ते पुलवामा में एक जगह पर मीटिंग हुई, जहां तीनों आतंकी संगठनों(जैश, लश्कर और हिज्बुल) को आतंकी हमलों को अंजाम देने के लिए जिम्मेदारी सौंपी गई। इन खुफिया दस्तावेजों के मुताबिक, एक विश्नसनीय इनपुट है कि हाल ही में पुलवामा में अज्ञात जगह पर एक आतंकियों की ये मीटिंग हुई, जिसमें कई आतंकी संगठनों कोभविष्य में आतंकी हमलो को अंजाम देने की जिम्मेदारी सौंपी गई।

खुफिया अलर्ट में कहा गया है कि

खुफिया अलर्ट में कहा गया है कि जैश-ए-मोहम्मद को नेशनल हाईवे पर आतंकी हमले कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। वहीं लश्कर-ए-तैयबा को भी आंतरिक सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर हमले कराने की जिम्मेदारी दी गई। वहीं हिज्बुल मुजाहिद्दीन को पुलिस और राजनीतिक हत्याओं को अंजाम देने की जिम्मेदारी दी गई है।

पाकिस्तान में दाढ़ी बनवाना भी हुआ मुश्किल, इस्लामिक कानून तोड़ने पर 4 नाइयों को मिली सजा