हेल्थ न्यूज … श्री महंत इंदिरेश अस्पताल के डॉक्टरों ने हार्ट सर्जरी कर 2 बच्चों को दिया नया जीवन

मिनिमल इनवेसिव कार्डियक सर्जरी मॉर्डन हार्ट सर्जरी का सुपर मॉर्डन फॉर्मेट 2 इंच का चीरा लगाकर 2 बच्चों की हुई हार्ट सर्जरी राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम के अन्तर्गत श्रीमहंत इन्दिरेश अस्पताल बच्चों की हार्ट सर्जरी के लिए अनुबंधित अस्पताल अब दिल्ली या मेट्रो शहरों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी

0
542

रिपोर्ट … Newstrust
देहरादून। एमआईसीएस तकनीक विदेशों में हार्ट सर्जरी की सर्वाधिक डिमांड वाली सर्जरी है। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के सीटीवीएस विभागाध्यक्ष, डॉ अशोक कुमार जयंत ने बृहस्पतिवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि श्री महंत इंदिरेश अस्पताल ने उत्तराखण्ड में 3 साल पहले इंटरड्यूज किया था। डा जयंत ने बताया कि यह मॉडर्न हार्ट सर्जरी का सुपर मॉर्डन फॉर्मेट है। उन्होंने बताया कि श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में हम 3 सालों से एमआईसीएस तकनीक से हार्ट सर्जरी कर रहे हैं। उन्होंने कहा इस सर्जरी का मरीजों को बहुत अच्छा रिस्पांस मिला है। डा जयंत ने बताया ‘हमने छोटे बच्चों की भी एमआईसीएस तकनीक से हार्ट सर्जरी शुरू की है, मुझे आशा है कि यदि उत्तराखण्ड व आसपास के राज्यों के मरीजों को भी एमआईसीएस तकनीक की जानकारी मिल जाती है तो वे भी इस सुविधा का लाभ ले पाएंगे।’
डा जयंत ने बताया मिनिमल इनवेसिव कार्डियक सर्जरी मॉर्डन हार्ट सर्जरी का सुपर मॉर्डन फॉर्मेट है। उन्होंने बताया कि श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में 2 इंच का चीरा लगाकर 2 बच्चों की हार्ट सर्जरी हुई है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम के अन्तर्गत श्रीमहंत इन्दिरेश अस्पताल बच्चों की हार्ट सर्जरी के लिए अनुबंधित अस्पताल है। उन्होंने कहा कि इस तरह के केसों में मरीजों को अब दिल्ली या मेट्रो शहरों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।