तुंगनाथ और चन्द्रशिला में चलाया सफाई अभियान

0
4526
रुद्रप्रयाग। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने पर्यटक स्थल दुगलबिट्टा व चोपता के साथ ही तृतीय केदारनाथ तुंगनाथ और चन्द्रशिला का स्थलीय निरीक्षण किया और भगवान तुंगनाथ के दर्शन किए। इस दौरान जिलाधिकारी ने दुगलबिट्टा और चोपता में लगातार हो रहे अतिक्रमण पर खासी नाराजगी जताई। पूर्व में अतिक्रमण हटाने के बाद फिर उन्हीं स्थानों पर लोगों द्वारा अतिक्रमण करने पर जिलाधिकारी ने तीन दिन के भीतर अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए। उन्होंने तहसीलदार को सख्त निर्देश दिए कि हाईकोर्ट के आदेशों का जो पालन नहीं करता है और जबरन अतिक्रमण करता है, उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाए।
    जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान पाया कि दुगलबिट्टा और चोपता के मध्य कई जगहों पर फिर से लोगों द्वारा बुग्यालों पर अतिक्रमण किया गया है, जिस पर जिलाधिकारी ने अतिक्रमणकारियों को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि हार्टकोर्ट की ओर साफ निर्देश दिए गए है और यदि उसके बावजूद भी बुग्यालों पर अतिक्रमण किया जाता है तो उसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
उन्होंने तहसीलदार को सभी अतिक्रमणकारियों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्यवाही करने के निर्देश दिए। वहीं जिलाधिकारी ने चोपता, दुगलबिट्टा में जगह-जगह गंदगी फैली होने पर भी रोश व्यक्त किया। उन्होंने स्थानीय व्यापारियों को फटकार लगाई कि अपने आस-पास साफ-सफाई रखना व्यक्ति की पहली प्राथमिकता है, लेकिन उसके बावजूद भी पर्यटक स्थलों पर इस तरह गंदगी फैली होना शर्मनाक है।
इसके साथ ही किसी भी व्यापारी के प्रतिष्ठानों के बाहर कूडे़दान नहीं पाए गए, जिस पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार को पांच-पांच हजार रूपए के चालान काटने के निर्देश दिए। इसके साथ ही जिलाधिकारी ने सरपंच उषाड़ा और मक्कू को निर्देश दिए कि सभी व्यापारियों से प्रति माह एक-एक हजार रूपए लेकर सफाई कर्मचारी को मानदेय पर रखें।
  इसके बाद जिलाधिकारी तृतीय केदार तुगनाथ धाम पहुंचे। यहां उन्होंने सबसे पहले भोले बाबा के दर्शन किए। जिसके बाद जिलाधिकारी ने मंदिर के आस-पास चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया और पूरी गुणवत्ता के साथ कार्य करने के निर्देश दिए।
उन्होंने निर्माण इकाई एडीबी को जल्द से जल्द कार्य पूरा करने के निर्देश दिए। तुंगनाथ के बाद जिलाधिकरी चन्द्रशिला पहुंचे और चन्द्रशिला से तुंगनाथ धाम तक सफाई अभियान चलाया। इस दौरान उन्होंने जगह-जगह फैले प्लास्टिक कचरे को एकत्रित किया। जिलाधिकारी ने स्थानीय लोगों को स्वच्छता बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बुग्यालों के संरक्षण पर ध्यान देने की जरूरत है और इसके लिए सबसे पहले प्लास्टिक प्रदूषण को पूरी तरह साफ करने की जरूरत है।
निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने दुगलबिट्टा में लोनिवि के निरीक्षण भवन के पास बने गैंग क्वाटर को अन्यत्र शिफ्ट कर उसकी जगह अस्थाई टैंट लगाने के निर्देश दिए। इसके लिए उन्होंने तहसीलदार तत्काल कार्यवाही करने को कहा। इस अवसर पर जिला पर्यटन अधिकारी पीके गौतम, तहसीलदार उखीमठ जयवीर राम बधाणी, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी हरीश चन्द्रा सहित सरपंच और संबंधित विभागीय अधिकारी मौजूद थे।